स्टेशन में बेपटरी हुई मालगाड़ी,03 की मौत, कई घायल…

भुवनेश्वर। ओडिशा के जाजपुर रेलवे स्टेशन में सोमवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। यहां एक अनियंत्रित मालगाड़ी बेपटरी हो गई और प्लेटफॉर्म तथा प्रतीक्षालय से टकरा गई, जिससे वहां खड़े यात्री उसकी चपेट में आ गए। इस दुर्घटना में 3 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई घायल बताए जा रहे हैं।

प्राथमिक सूचना के मुताबिक इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है जबकि 3 से अधिक लोग घायल हुए हैं। राहत बचाव कार्य में आरपीएफ पुलिस एवं दमकल वाहिनी की टीम नियोजित की गई है। भुवनेश्वर से एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन मौके पर भेजी गई है। खुर्दा डीआरएम दुर्घटना स्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया है और घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के लिए 5 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा की है। मंत्रालय ने गंभीर रूप से घायलों में से प्रत्येक को 2 लाख और मामूली रूप से घायल लोगों के लिए ₹25,000 देने की भी घोषणा की है।

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए कोरई मालगाड़ी दुर्घटना के पीड़ितों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने प्रशासन को बचाव कार्य में तेजी लाने और घायलों को पर्याप्त उपचार मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं।

दुर्घटना के बाद पूरा स्टेशन परिसर को पुलिस ने अपने घेरे में ले लिया है। राहत एवं बचाव कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। हादसे के बाद आठ ट्रेन रद कर दी गई है। 12 ट्रेन को डायवर्ट किया गया है। 5 ट्रेन की सेवा आंशिक रूप से रद्द की गई है।

पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी विश्वजीत साहू ने कहा है कि 6:44 बजे यह दुखद हादसा हुआ है। किस वजह से यह दुर्घटना हुई है जांच के निर्देश दिए गए हैं। हादसे के बाद भद्रक-कपिलास रोड रूट पर ट्रेन की अप और डाउन दोनों सेवा को बंद कर दी गई है। सभी स्टेशन पर हेल्प डेस्क खोला गया है। हेल्प लाइन नंबर जारी कर दिया गया है।

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि मालगाड़ी खड़गपुर से छत्रपुर जा रही थी। ट्रेन में कुल 54 डिब्बे थे। सभी डिब्बे खाली थे। जाजपुर कोरई रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी के 8 डिब्बे प्लेटफार्म के ऊपर आ गए, जिससे यह हादसा हुआ है। हादसे की भयावहता का अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि बोगी के पटरी पर आ जाने से स्टेशन मौजूद विश्राम घर टूट गया है।