Google Ad1

Category: माँ

कापालिक धर्म रक्षित राम जी  संतोष कुमार सिंह एस पी रायगढ़ रीडर्स फर्स्ट पत्रिका का किए अनावरण

कापालिक धर्म रक्षित राम जी, रायगढ़ एसपी संतोष कुमार सिंह ने किया रीडर्स फर्स्ट पत्रिका का अनावरण रायगढ़। रीडर्स फर्स्ट त्रैमासिक पत्रिका का अनावरण अघोर पीठ जन सेवा अभेद आश्रम के पूज्य पाद कापालिक धर्म रक्षित राम जी बाबा एवं…

परम् पूज्य औघड़ कापालिक धर्म रक्षित राम जी ने आगामी गुरुपूर्णिमा पर्व अपने-अपने घरों में मनाने का निर्देश

परम् पूज्य औघड़ कापालिक धर्म रक्षित राम जी ने आगामी गुरुपूर्णिमा पर्व अपने-अपने घरों में मनाने का दिया निर्देशकोरोना जनित वैश्विक महामारी कोविड-19 के प्रकोप के कारण मानव जाति के अस्तित्व पर उत्पन्न संकट को लेकर अघोर पीठ जन सेवा…

पिता की पते पर एक पाती…

“पिता की पते पर एक पाती” जीवन संघर्ष के तवे पर रोटी सेंकता पिता सपने अपने बांध पोटली रोज फेंकता पिता बचपन की उंगली थामकर चलता पिता बच्चे की किलकारी से दमक उठता पिता निश्छल मुस्कान देखने घोड़ा बनता पिता…

मुस्कुराइये और चेहरों को मुस्कान दीजिये,

मुस्कुराइये और चेहरों को मुस्कान दीजिये, उम्र के हर दौर का पूरा मजा लीजिये. उम्र जन्म के साथ ही घटना शुरू हो जाता है और हम कहते है कि बड़े हो रहे हैं. जब हम छोटे होते है तो सोचते…

दाम चुकाओ तो आज क्या नहीं मिल जाता

दाम चुकाओ तो आज क्या नहीं मिल जाता कल तक जो आपके घर में दूध में पानी मिला कर बेचते थे, उन्हें अगर आज मिलावट और कुपोषण के खिलाफ जंग छेड़ते देखते हैं तो इसका अर्थ यह नहीं कि आपके…

मादा बया को रिझाने के लिए पांच सौ से 1000 बार उड़कर सुंदर घोसला बनाता है नर बया

मादा बया को रिझाने के लिए पांच सौ बार उड़कर सुंदर घोसला बनाता है नर बया वह अपना घोंसला बनाता है तो घर बसाने के लिए, मगर कुछ दिन तक ही उसमें रह पाता है। हालांकि इस दौरान संघर्ष की…

कैटेगरियां नैतिकता की

कैटेगरियां नैतिकता की जिस तरह प्राचीन साहित्याचार्यों ने कविता की विभिन्न श्रेणियां बनाई हैं उसी तरह आधुनिक नैतिकाचार्यों ने भी नैतिक मूल्यों की दिन दुगनी रात चौगुनी बढ़ती बाजारू डिमांड को देखते हुए उसको मोटे-मोटे तौर पर तीन कैटेगरियों में…

इल्तिजा अज्ञात से

इल्तिजा अज्ञात से उन्होंने भी पचासियों को पछाड़ मेहनत से हटकर मेहनत की और बड़े से बड़े साहब हो गए। जब साहब बड़े से बड़े साहब बड़े हो जाएं तो उन्हें कोई नहीं पूछता। वे ही सबको पूछते हैं। क्योंकि…

जो अपने में परिवर्तन ले आएगा वह उनके नजदीक पहुँचता जायेगा

जो अपने में परिवर्तन ले आएगा वह उनके नजदीक पहुँचता जायेगा यदि हमें कुछ प्राप्त करना है, उस अध्यात्म को प्राप्त करना है और यदि हममें भक्ति है, श्रद्धा है, तो हमें अपने में रहना होगा, अपने से हमें करना…

चौथी पढ़ी मां के दृढ़ विश्वास ने गढ़ा छत्तीसगढ़ का पहला आईएएस : विश्व मातृत्व दिवस पर ओपी चौधरी

विष्णुचन्द्र शर्मा @ खरसिया। छत्तीसगढ़ का पहला आई.ए.एस. बनने के पीछे मां का वह दृढ़ विश्वास है जो हर चुनौती से जीतना गया और उन्होंने अपने पुत्र को कलेक्टर बना दिया। पूर्व कलेक्टर व बीजेपी नेता ओपी चौधरी ने विश्व…

Back to top
error: Content is protected !!